29 C
Mumbai
Tuesday, October 19, 2021
Homeअर्थ-व्यापारखत्म हो रही है सऊदी दौलत, सीआईए के पूर्व चीफ ने खोला...

खत्म हो रही है सऊदी दौलत, सीआईए के पूर्व चीफ ने खोला राज़! खून फिर खून है टपकेगा तो जम जाएगा!

रिपोर्ट – सज्जाद अली नायाणी

अमरीकी खुफिया एजेन्सी सीआईए के पूर्व प्रमुख ने चेतावनी दी है कि बजट में घाटा और क्षेत्रीय युद्धों की वजह से सऊदी अरब का विदेशी मुद्रा भंडार खत्म होने वाला है।

    डेविट पेट्रिअस  ने शुक्रवार को सीएनबीएस टीवी चैनल पर एक वार्ता में सऊदी अरब की खत्म होती दौलत के बारे में सचेत किया है।

    उन्होंने कहा कि सच्चाई यह है कि सऊदी अरब की दौलत धीरे धीरे खत्म हो रही है। सऊदी अरब का विदेशी मुद्रा भंडार 500 अरब डालर से कम है और तेल की क़ीमतों में कमी की वजह से सऊदी अरब के बजट मे हर साल 40 से 60 अरब डालर का घाटा हो रहा है इसके अलावा क्षेत्र के विभिन्न देशों में सऊदी अरब की “ गतिविधियां “ भी उसकी दौलत में कमी कर रही हैं।

बिन सलमान ने सोचा था कुछ हफ्तों में यमन युद्ध जीत लेंगे 

    पेट्रिअस ने कहा कि अस्ल बात यह है कि सऊदी अरब को धन की ज़रूरत है और सऊदी अरब को अपनी महत्वकांक्षी योजना “ वीजन 2030” के लिए विदेशी निवेश की ज़रूरत है।

    याद रहे सऊदी अरब ने यमन को तबाह करने के लिए इस देश पर हमला किया था किंतु हफ्तों के बजाए कई साल तक खिंचने वाले इस युद्ध ने आर्थिक रूप से भी सऊदी अरब की कमर तोड़ दी है।

एक रिपोर्ट के अनुसार यमन युद्ध से सऊदी अरब को कम से कम 800 अरब डालर अर्थात लगभग 57600 हज़ार करोड़ का नुक़सान हुआ है।

सऊदी अरब बाज़ार से सीमा से अधिक क़र्ज़ा लेने पर मजबूर हो गया और यमन युद्ध के दौरान सऊदी अरब पर क़र्ज़, 91 अरब डालर से बढ़ गर 149 अरब डालर हो गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments