34 C
Mumbai
Wednesday, October 27, 2021
Homeअर्थ-व्यापारभारत ने भी अमेरिका को दिखाया ठेंगा, अमेरिकी दबाव के बावजूद रूस...

भारत ने भी अमेरिका को दिखाया ठेंगा, अमेरिकी दबाव के बावजूद रूस से S-400 खरीदेंगे, ठीक समय पर भारत को S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली देंगे – पुतीन

भारत के विदेशमंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने जून महीने के आरंभ में घोषणा की थी कि अमेरिकी दबाव के बावजूद भारत रूस से S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली के सौदे को निरस्त करने का इरादा नहीं रखता।

विदेश – रूस के राष्ट्रपति ने कहा है कि उनका देश भारत को S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली समय पर देगा।

ब्राज़ील में ब्रिक्स के सदस्य देशों की बैठक के अवसर भारत के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाक़ात में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतीन ने कहा है कि जहां तक S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली भारत को देने का संबंध है तो मैं कहना चाहता हूं कि समस्त चीज़ें कार्यक्रम के अनुसार आगे बढ़ रही हैं।

साथ ही उन्होंने कहा कि हमारे भारतीय सहयोगियों ने हमसे इस कार्य में गति प्रदान करने का आह्वान नहीं किया है और हर चीज़ सही दिशा में आगे बढ़ रही है। ज्ञात रहे कि वर्ष 2018 के अंत में नई दिल्ली और मास्को ने 6 अरब डालर के एक सैन्य समझौते पर सहमति जताई थी। इस समझौते के अनुसार रूस भारत को S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली देगा।

भारत और रूस के मध्य इस समझौते पर हस्ताक्षर के बाद अमेरिका ने भारत को चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर भारत ने S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली की ख़रीदारी के संबंध में पुनर्विचार नहीं किया तो उसके और अमेरिका के बीच होने वाला सैन्य सहयोग प्रभावित होगा।

भारत के विदेशमंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने जून महीने के आरंभ में घोषणा की थी कि अमेरिकी दबाव के बावजूद भारत रूस से S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली के सौदे को निरस्त करने का इरादा नहीं रखता।

जानकार हल्कों का मानना है कि इस प्रकार का अमेरिकी व्यवहार खुद एक प्रकार का दूसरे देशों के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप है क्योंकि हर देश को दूसरे देश से लेन- देन का पूरा अधिकार है और किसी को भी यह कहने का अधिकार नहीं है कि वह किससे लेन- देन करे।

साभार पार्सटूडे

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments