28 C
Mumbai
Sunday, October 17, 2021
Homeउत्तर प्रदेशएक लंबे समय के बाद इटावा का नगर निकाय चुनाव डकैतों की...

एक लंबे समय के बाद इटावा का नगर निकाय चुनाव डकैतों की चर्चा का बनने जा रहा है मुख्य केंद्र।————— संदीप मिश्रा

इटावा-एक लंबे समय के बाद इटावा का नगर निकाय चुनाव डकैतों की चर्चा का मुख्य केंद्र बनने जा रहा है।लेकिन इस बार यह चर्चा पुलिस के लिये परेशानी का नही बल्कि प्रत्याशियों के लिये परेशानी का सबब बन सकता है।कथित तोर पर निर्भय गुर्जर की पत्नी पूर्व दस्यु सुन्दरी नीलम गुप्ता इटावा नगर पालिका चुनाव के अध्यक्ष पद पर अपनी दावेदारी पेश करने जा रही है।हालांकि कुछ दलो ने नीलम को आमंत्रण दिया कि वो उनका झंडा थामे लेकिन नीलम ने फिलहाल निर्दलीय ही इटावा सदर सीट से चुनाव लड़ने की बात कही है।यह खुलासा दस्य सुंदरी ने आयोजित एक प्रेस वार्ता में किया है।नीलम का साफ कहना है कि जिस उम्र में लड़कियो की उम्र लपु डंडा खेलने की होती है उस उम्र से ही उसने शोषण झेलना शुरू कर दिया था।उसका साफ कहना है कि निर्भय उसका जबर्दस्ती का शौहर था।उसका अपहरण करवा कर निर्भय ने अपनी हवस की भूख शांत करने के लिये उससे शादी की।लेकिन जैसे ही उसे मौका मिला वह उसके गैंग से निकल भागी।औऱ आत्मसमर्पण कर जेल चली गयी।अब वह फिर जेल से बाहर है।उसके ऊपर लगे सभी मुकद्दमों से वो बरी हो गयी है।लेकिन समाज के कुछ दबंग लोग उसका जीना फिर मुश्किल किये हैं।दस्यु सुन्दरी के गाँव के मकान की जमीन पर उन लोगों ने कब्जा कर रखा है।और औरैया प्रशासन से शिकायत करने के बाद भी उसकी जमीन प्रशासन कब्जा मुक्त नही करवा पा रहा है।समाज से सताई हुई यह पूर्व दस्यु सुन्दरी राजनीति के मैदान में आकर समाज के उन लोगों की अब लडाई लड़ना चाह रही है जिन्हें अपने जीवन ने न्याय की जरूरत हैं।अब दस्यु सुन्दरी को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिये इटावा का मतदाता उसका किस अंदाज में वेलकम करेगा।मीडिया की इसी पर नजर होगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments