28 C
Mumbai
Wednesday, October 20, 2021
Homeyour viewsकन्नौज: महिला शिक्षिका की दबंगई, अभिभावक और साथी शिक्षक बैठे धरने पर।

कन्नौज: महिला शिक्षिका की दबंगई, अभिभावक और साथी शिक्षक बैठे धरने पर।

रिपोर्ट- विपिन निगम


न्यूज़ डेस्क (यूपी) कन्नौज : उत्तर प्रदेश के जनपद कन्नौज में कोतवाली छिबरामऊ क्षेत्र के शाहजहांपुर प्राइमरी विद्यालय में पढ़ाने वाली शिक्षिका पूरे विद्यालय में अपनी तानाशाही के चलते विद्यालय का माहौल खराब कर दिया हैं अध्यापक हो या बच्चे सभी दबंग शिक्षिका दीपशिखा की तानाशाही से खौफ ज़दा है। मासूम बच्चे तो उसके पास तक जाने से डरते हैं क्योंकि न जाने किस बात पर वह शिक्षिका उन पर हाथ उठा दे या उनको मारने पीटने लगे |

विद्यालय में सथी शिक्षक भी शिक्षिका की तानाशाही रवैया से परेशान रहते हैं शिक्षिका सभी को अपना रौब दिखाते हुए उन पर धौस जमाती रहती है आलम यह है कि विद्यालय में अब ना तो साथी शिक्षक जा रहे हैं और ना ही बच्चे।

कन्नौज के शाहजहांपुर विद्यालय में तैनात दबंग दीपशिखा शिक्षिका पत्रकारों से भी खुलेआम अभद्रता करती है उनके मोबाइल छीन लेती है जबरन उनके मोबाइल उसे उसकी करतूत को डिलीट भी करवा देती है फिलहाल मामले में पीड़ित बच्चों के परिजन साथी सहायक शिक्षक व बीआरसी शिक्षिका के खिलाफ धरना प्रदर्शन पर बैठ गए हैं और आला अधिकारियों से विद्यालय बच्चे व खुद को उस से बचाने की गुहार लगा रहे हैं |

2 अक्टूबर के मौके पर विद्यालय में महात्मा गांधी वह लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर कार्यक्रम आयोजन किया गया था जिसकी पत्रकार कवरेज कर रहे थे तभी किसी पत्रकार ने कक्षा चार के बच्चों से महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री के बारे में पूछा कि वह कौन थे तो कक्षा 3 के बच्चे बता नहीं पाए पाए और ना ही कक्षा 4 के बच्चे बता पाए कि लाल बहादुर शास्त्री और महात्मा गांधी कौन थे ऐसे में अपने विद्यालय की और अपनी की पोल खुलते दीपशिखा वहां पर खड़े पत्रकारों पर भड़क गए और उनसे हाथापाई करने पर उतारू हो गई | वही कवरेज कर रहे एक पत्रकार का मोबाइल भी छीन लिया सामने उसकी सब करते अपने मोबाइल में दिखा जा सकता है कैसे छीन लिया और उस पत्रकार के मोबाइल से सभी उसकी करतूतों के वीडियो डिलीट करा दिए मामले पर आला अधिकारी अभी भी चुप है है।
विद्यालय में अन्य सहायक शिक्षक दीपशिखा से परेशान वृश्चिका की पोल खोलने के लिए खुलकर मीडिया के सामने बोलने लगे हैं शादी शिक्षकों ने बताया कि दीपशिखा दबंग तरीके से विद्यालय पर पढ़ाने नहीं मानो राज करने आती है मासूम बच्चों ने बताया कि टीचर पढ़ाती कम है और मोबाइल में ज्यादा व्यस्त रहती है अगर कुछ कहो तो वह हमें मारने पीटने लगती है वहीं सहायक शिक्षकों ने भी बताया कि दीपिका ने विद्यालय में सरकारी धन का भी जमकर बंदरबांट किया है वहीं शिक्षिका महिला होने के नाते अपने दबंगई के चलते आए दिन हम लोगों पर भी रहती है। वही दीपसिखा शिक्षिका ने कहा मै अशिकारियो को पैसे देती हूं मेरा कुछ नही बिगाड़ सकता । वही शाहजहांपुर ग्राम प्रधान महेश चंद्र कमल ने बताया कि शिक्षिका की दबंगई वाह अभद्र व्यवहार के कारण दिनों दिन बच्चों की संख्या कम होती जा रही है तथा साथी शिक्षक इससे भयभीत रहते हैं और विद्यालय में शिक्षण कार्य बाधित होता है

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments