28 C
Mumbai
Sunday, October 17, 2021
Homeउत्तर प्रदेशचौकी कृष्णा नगर क्षेत्र में पुलिस का रूतबा ढीला, चौकी प्रभारी पूर्ण...

चौकी कृष्णा नगर क्षेत्र में पुलिस का रूतबा ढीला, चौकी प्रभारी पूर्ण रूप से निष्क्रिय । —- रिपोर्ट – राज ठाकुर

मथुरा – दो माह पहले बहला फुसलाकर ले गया था फिर की ज़बर्दस्ती शादी, उसके बाद पुलिस ने दबंगों के चंगुल से लड़की को बरामद कर तहरीर लेकर 164 का ब्यान लड़की को परिजनों को सौंप दिया था, दबंगों द्वारा ज्योति नगर में उस वक़्त युवती को जबरन उठाकर ले गए जब घर में ही कुछ बच्चों को ट्यूशन दे रहे थे जैसे ही बच्चे बहार निकले उसी समय आधादर्जन से अधिक लोग मुँह पर गमछा बांधकर हाथ में तमंचा लिए घर के अंदर प्रवेश कर गए और लड़की की मां को तमंचे के वट से घायल कर नीचे डाल लिया और बड़ी लड़की काल्पनिक नाम सुधा को मारपीट कर जबर्दस्ती खींच कर लेजाने लगे।

पड़ोसियों ने की घटना की पुष्टि

पड़ोसियों ने बताया करीब आठ से दस लोग आए थे घर के अंदर मारपीट कर रहे थे हम लोग चीख पुकार सुनकर बहार आये तो हमारी हिम्मत नही हुई कि हम लोग उन्हें बचा सकें। दबंग युवक भी उसी कॉलोनी के रहने वाले हैं।

दबंग युवक ने अपने साथियों के साथ आज सुबह 11:30:00 बजे युवती के घर पहुंच उसके परिजनों को बुरी तरह पीटा और लड़की को फ़िल्मी स्टाइल में ज़बर्दस्ती उठाकर ले गया किसी हिम्मत नही हुई क्योंकि बार बार हवा में तमंचा लहराते हुए यही कह रहे थे अगर कोई बीच में आया तो अपनी जान से हाथ धो बैठेगा।

खबर लिखे जाने तक युवती दबंगों के चंगुल में ही थी परिजनों ने क्षेत्रीय चौकी में घटना की तहरीर दी है। लड़की की माँ और मामा सोनू ने पूरा घटनाक्रम बताया हमलावर व किडनैपरों के नाम इस प्रकार बताये है।

मुख्यारोपी – तेजेंद्र उर्फ देवेंद्र पुत्र बाबू लाल, आरोपी का बड़ा भाई – भूपेंद्र पुत्र बाबूलाल- सूत्रों की मानें तो इसने अपनी असली पत्नी को मन्द बुध्दी बताकर मायके छोड़ रखा है खुद किसी दूसरे राज्य में नौकरी करता है वहीं पर किसी युवती से पहली को बिना तलाक दिए दूसरी शादी भी करली है । हमलावरों में शामिल – विकास नामक व्यक्ति भी है। बाकी अन्य अज्ञात हैं। पुलिस घटना स्थल पर तो पहुंची लेकिन अभी तक उनमें से किसी की गिरफ्तारी या लड़की को बरामद नही कर पाए हैं।

चौकी कृष्णा नगर क्षेत्र में घटनाओं का तूफान सा आया हुआ है चौकी प्रभारी पूर्ण रूप से निष्क्रिय साबित हो रहे हैं। शायद ही कोई ऐसा दिन जाता हो जब घटना घटित न होती हों, तो वहीं कुछ कॉलोनियों में अवैध कामों पर भी पूर्णरूप से अंकुश नही लग सका है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments