26 C
Mumbai
Tuesday, October 26, 2021
Homeउत्तर प्रदेशलेखपाल को एंटी करप्शन टीम ने घूस लेते दबोचा, जाने क्या है...

लेखपाल को एंटी करप्शन टीम ने घूस लेते दबोचा, जाने क्या है पूरा मामला।

न्यजू डेक्स(यूपी) जौनपुर :उत्तर प्रदेश के जौनपुर मे बक्शा थानाक्षेत्र के मई गांव निवासी किसान की शिकायत पर भ्रष्टाचार निवारण संगठन वाराणसी की टीम ने बुधवार को सद्भावना पुल के पास से एक लेखपाल को बीस हजार रुपया घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को वाराणसी ले जाया गया। गुरुवार को एंटी करप्शन कोर्ट में पेश किया जाएगा। 

सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के कुत्तुपुर गांव निवासी ओम प्रकाश यादव बक्शा थाना क्षेत्र के मई गांव में बतौर लेखपाल नियुक्त है। मई गांव निवासी सोनू कुमार गोसाई पुत्र भरत लाल गोसाई पिछले काफी दिनों से जमीन की नवैयत परिवर्तित कराने के लिए परेशान था। वह बार बार ओम प्रकाश के पास चक्कर लगा रहा था। आरोप है कि रिपोर्ट लगाने के लिए लेखपाल ओम प्रकाश ने बीस हजार की मांग की। पैसा देने में सोनू को परेशानी हो रही थी। बार बार प्रयास के बाद भी जब लेखपाल नहीं माना तो सोनू ने भ्रष्टाचार निवारण संगठन वाराणसी की शरण ली।

मंगलवार को वाराणसी में पूरी घटना के बारे में प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार दीक्षित को जानकारी दी। तयशुदा योजना के तहत बुधवार को सोनू 20 हजार रुपया देने के लिए ओम प्रकाश को सद्भावना पुल के दुर्गा मंदिर पर बुलाया। वह जैसे ही पैसा लेखपाल के हाथों में दिया, एंटी करेप्शन वालों ने लेखपाल को दबोच लिया। गिरफ्तार कर लेखपाल को कोतवाली ले जाया गया।

मुकदमा दर्ज कराते हुए टीम लेखपाल को लेकर वाराणसी चली गयी। इस घटना की जानकारी लोगों को हुई तो काफी संख्या में कोतवाली पहुंच गए। लेखपाल के परिवार के लोग भी पहुंच गए थे। वाराणसी से आयी टीम में संतोष कुमार दीक्षित के अलावा ओम प्रकाश यादव, विजय नरायण, अश्वनी कुमार पाण्डेय, सुनील कुमार, सुमित कुमार शामिल थे। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments