28 C
Mumbai
Sunday, October 17, 2021
Homeगुजरातअमित शाह के खिलाफ एनकाउंटर केस में CBI जज को 100 करोड़...

अमित शाह के खिलाफ एनकाउंटर केस में CBI जज को 100 करोड़ का ऑफर देने का सनसनी खेज आरोप। 

अमित शाह के खिलाफ चल रहे एनकाउंटर केस में क्लीन चिट देने के लिए बांबे हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस मोहित शाह ने उस समय के CBI जज को 100 करोड़ का दिया था ऑफर, CBI जज की बहन का सनसनी आरोप।

अगले महीने होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अध्यक्ष अमित शाह के सामने एक नई मुसीबत आकर खड़ी हो गई है। दरअसल, गुजरात के बहुचर्चित सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर मामले की सुनवाई कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत के न्यायाधीश बृजगोपाल लोया की अचानक हुई मौत के करीब तीन साल बाद उनके परिजनों ने चुप्पी तोड़ते हुए उनकी मौत पर कई गंभीर सवाल खड़े किए हैं।

File Photo: Caravan

बता दें कि सीबीआई ने इस मामले में भारतीय जनता पार्टी के मौजूदा अध्यक्ष और उस वक्त के राज्य के गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी, हालांकि बाद में कोर्ट ने सबूतों के अभाव में उन्हें बरी कर दिया था। साल 2005 में गुजरात पुलिस ने कथित तौर पर सोहराबुद्दीन शेख का अहमदाबाद एयरपोर्ट के पीछे एक स्थान पर फर्जी एनकाउंटर किया था। इस मामले में गुजरात पुलिस के कई वरिष्ठ अधिकारियों के भी नाम आए थे।

चीफ जस्टिस ने 100 करोड़ का दिया था ऑफर

अंग्रेजी मैगजीन कारवां ने कथित फर्जी एनकाउंटर को लेकर कई ऐसे बड़े खुलासे किए है जिससे राजनीतिक गलियारों में भूकंप आ सकता है। दरअसल, कारवां में मृतक सीबीआई जज बृजगोपाल लोया की बहन के हवाले से छपी रिपोर्ट के मुताबिक मुंबई हाई कोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस मोहित शाह ने इस केस को रफा-दफा करने के लिए उनके भाई और  को 100 करोड़ रुपये घूस के रूप में ऑफर किया गया था।

जस्टिस वृजगोपाल ने बहन अनुराधा बियानी ने कारवां की रिपोर्टर को बताया कि उनके भाई और उस समय के CBI जज लोया को मुंबई हाई कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश मोहित शाह ने 100 करोड़ रुपये की रिश्वत की पेशकश की थी। कारवां में छपी रिपोर्ट के मुताबिक इस घूस की पेशकश सभी आरोपियों को क्लीन चीट देने के लिए की गई थी। अनुराधा ने पत्रिका को बताया कि यह ऑफर उनके भाई की मौत के कुछ हफ्ते पहले ही दिया गया था।

बहन के अलावा मृतक सीबीआई जज के पिता ने भी मैगजीन से बातचीत में दावा किया है इस मामले में आरोपियों के अनुकूल फैसला सुनाने के लिए पैसे के साथ-साथ मुंबई में एक घर देने की भी पेशकश की गई थी। कारवां पत्रिका ने जज के परिजनों के आरोपों पर प्रतिक्रिया लेने के लिए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और पूर्व चीफ जस्टिस मोहित शाह से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन दोनों से संपर्क नहीं हो पाया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments