32 C
Mumbai
Wednesday, October 27, 2021
Homeदेश-विदेशअगर अमरीका ने हमला किया तो जंग सीमित नहीं रहेगी : ज़रीफ़

अगर अमरीका ने हमला किया तो जंग सीमित नहीं रहेगी : ज़रीफ़

रिपोर्ट – सज्जाद अली नायाणी

विदेश मंत्री जवाद ज़रीफ़ ने अमरीका और उसके युद्धोन्मादी घटकों को संबोधित करते हुए कहा है कि मौक़े का फ़ायदा उठाकर यमन त्रासदी को ख़त्म करना ही नुक़सान की भरपायी का तरीक़ा है न कि त्रासदी को व्यापक करना।

जवाद ज़रीफ़ ने अपने ट्वीटर हैंडल पर अपने अमरीकी समकक्ष माइक्ष पोम्पियो के उस वीडियो को प्रकाशित करते हुए कि जिसमें पोम्पियो ने कहा था कि अमरीका के केन्द्रीय गुप्तचर संगठन सीआईए के प्रमुख के रूप में वह झूठ बोलते और धोखाधड़ी करते हैं, लिखा कि आदत को छोड़ना बीमारी का कारण बनता है।

ईरानी विदेश मंत्री ने कहा कि विदेशी ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए जो दूसरों के जान माल की कोई परवाह नहीं करते, झूठ व धोखाधड़ी पिछले कुछ दिनों में अपने चरम पर पहुंच गयी है।

उन्होंने अपने अन्य ट्वीट में लिखा कि युद्धोन्मादी घटक व टीम बी के बचे हुए सदस्य ट्रम्प को जंग में खींचने के लिए धोखा देना चाहते हैं।

ईरानी विदेश मंत्री ने इस बात पर बल देते हुए कि अमरीका और उसके घटकों के हित में है कि वह दुआ करें जो चाह रहे हैं वह न हो, कहा कि वे अभी यमन में बहुत छोटी जंग का ख़र्च उठा रहे हैं जिसे वह 4 साल से घमंड की वजह से ख़त्म करने के लिए तय्यार नहीं हैं।

दूसरी ओर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्बास मूसवी ने कहा है कि इस्लामी गणतंत्र ईरान क्षेत्र में तनाव नहीं चाहता, कहा कि ईरान इतना शक्तिशाली है कि अगर कोई काम करेगा तो उसकी ज़िम्मेदारी स्वीकार करेगा।

उन्होंने अलआलम से इंटरव्यू में, सऊदी अरब की अरामको कंपनी के प्रतिष्ठान पर हुए हमले में ईरान की भूमिका पर आधारित अमरीकी अधिकारियों के इल्ज़ाम की ओर इशारा करते हुए कहा कि इस इल्ज़ाम लगाने की एक वजह यह है कि उन्हें यमन की पीड़ित जनता की रक्षा क्षमता पर विश्वास नहीं हो रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments