29 C
Mumbai
Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-विदेशअल-बग़दादी के बारे में एक वरिष्ठ अमरीकी पत्रकार का चौंका देने वाला...

अल-बग़दादी के बारे में एक वरिष्ठ अमरीकी पत्रकार का चौंका देने वाला ख़ुलासा

अमरीका के एक स्कॉलर का कहना है कि दुनिया के सबसे ख़ूंख़ार तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश का सरग़ना अल-बग़दादी इस्राईल का एजेंट था।

विदेश – अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने रविवार को दावा किया था कि अमरीकी सैनिकों के एक ऑप्रेशन के दौरान अबू बक्र अल-बग़दादी ने पोश्चिमोत्तर सीरिया में आत्मघाती धमाका करके आत्महत्या कर ली।

https://mannetwork.in/wp-content/uploads/2019/11/15725809114831946221333.png

अमरीकी स्कॉलर और पत्रकार केविन बैरेट का यह भी कहना है कि ट्रम्प की घोषणा के बाद बग़दादी के ख़ुफ़िया ठिकाने की जो तस्वीरें जारी की गई थीं, वह भी फ़ेक थीं।

बैरेट का कहना था कि ट्रम्प ने बग़दादी की मौत की घोषणा कुछ ऐसे अंदाज़ में की कि वह ख़बर कम और कमेडी ज़्यादा लग रही थी, जिसका मक़सद अमरीकियों का मनोरंजन करना था।

अमरीकी पत्रकार ने दावा किया कि वास्तव में दाइश का सरग़ना बग़दादी एक इस्राईली और अमरीकी एजेंट था, बल्कि कुछ पत्रकारों ने तो यह भी दावा किया है कि एक इस्राईली जासूस अल-बग़दादी की भूमिका निभा रहा था।

इस बीच, संयुक्त राष्ट्र संघ के एक प्रवक्ता का कहना है कि राष्ट्र संघ अल-बग़दादी की मौत पर आधारित अमरीका की घोषणा की पुष्टि नहीं कर सकता है।

हालांकि ट्रम्प का कहन है कि वे सिचुएशन रूम में बैठकर बग़दादी को मारने के लिए किए गए अमरीकी सैन्य ऑप्रशन का सीधा प्रसारण ऐसे देख रहे थे कि जैसे कोई फ़िल्म देख रहे हों।

https://mannetwork.in/wp-content/uploads/2019/11/15725811702082018254042.png

बैरेट ने बग़दादी की हत्या के लिए किए गए ऑप्रेशन को ओसामा बिन लादेन की हत्या के लिए किए गए ऑप्रेशन की तरह एक ड्रामा बताया।

उन्होंने कहाः अमरीकी सैनिकों ने बग़दादी के शव के टुकड़े जमा किए और उन्हें समुद्र में किसी ख़ुफ़िया ठिकाने पर फेंक दिया, बिल्कुल जिस तरह से बिन लादेन के शव के साथ करने का दावा किया था।

उन्होंने कहा कि दोनों ही ऑप्रेशन फ़ेक थे।

ग़ौरतलब है कि 2014 में सीरिया संकट के दौरान अचानक दाइश नामक आतंकवादी गुट ने ज़ोर पकड़ा और देखते ही देखते उसने इराक़ और सीरिया के ब्रिटेन की बराबर वाले क्षेत्रफल पर क़ब्ज़ा कर लिया।

इस गुट के सरग़ना अल-बग़दादी ने ख़ुद को पूरी दुनिया के मुसलमानों का ख़लीफ़ घोषित कर दिया।

दाइश ने अपने क़ब्ज़े वाले इलाक़ों में ऐसे ऐसे भयानक अपराध अंजाम दिए कि जिनकी मिसाल इतिहास में नहीं मिलती।

हालांकि इराक़ी स्वयं सेवी बलों और सेना ने 2017 में युद्ध के मैदान में दाइश को पराजित कर दिया और उसके अधिकांश आतंकवादियों को या तो मार दिया या गिरफ़्तार कर लिया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments