29 C
Mumbai
Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-विदेशइराक़ी गुटों का बड़ा एलान, जल्द ही बदला लेंगे इस्राईल से!

इराक़ी गुटों का बड़ा एलान, जल्द ही बदला लेंगे इस्राईल से!

रिपोर्ट – सज्जाद अली नायाणी

इराक़ के स्वंय सेवी बल से संबंधित गुटों ने कहा है कि जल्दी ही वह स्वंय सेवी बल के ठिकानों पर इस्राईल के ड्रोन के हमलों का जवाब देंगे।

विदेश – इराक़ के प्रधानमंत्री आदिल अब्दुल मेहदी ने इराक़ के स्वंय सेवी बल ” अलहश्दुश्शाबी ” पर आक्रमण के बारे में जांच की रिपोर्ट का सोमवार को एलान किया।

उन्होंने अलजज़ीरा टीवी चैनल के साथ एक वार्ता में कहा कि  इन हमलों में इस्राईल का हाथ है और प्रमाण और साक्षों से पता चलता है कि इलाक़े में इस्राईल के अलावा कोई भी युद्ध नहीं चाहता।

इराक़ी प्रधानमंत्री के बयान के बाद इराक़ के विभिन्न संगठनों और गुटों ने कि जो स्वंय सेवी बल से संबधित हैं, धमकी दी है कि इस्राईल के हमलों का जल्द ही बदला लिया जाएगा।

स्वंय सेवी बल से जुड़े ” सैयदुश्शोहदा ब्रिगेड” के उप महासचिव अहमद अलमकसूसी ने ” अलअरबी अलजदीद” समाचार पत्र से एक वार्ता में कहा कि उन्हें एक महीने से पता था कि स्वंय सेवी बल के ठिकानों पर हमले के बारे में जांच समिति ने  इस्राईल के लिप्त होने की बात सही पाया है।

उन्होंने कहा कि अमरीकियों ने इराक़ी प्रधानमंत्री से कहा था कि यह हमले इस्राईल ने किये हैं और यह बात उन्होंने कई बैठकों में बतायी थी किंतु सोमवार को औपचारिक रूप से इसकी घोषणा की गयी।

इस इराक़ी कमांडर ने बताया कि अगले कुछ दिनों के भीतर स्वंय सेवी बल से जुड़े संगठन बगदाद में एक बैठक का आयोजन करने वाले हैं। उन्होंने कहा कि सभी विकल्प हमारे सामने हैं और हम जवाबी कार्यवाही के अधिकार को सुरक्षित समझते हैं।

उन्होंने कहा कि इस्राईल अपनी रेंज में है जबकि इराक़ की सरकार सुरक्षा परिषद और अंतरराष्ट्रीय संगठनों में ज़ायोनी शासन की शिकायत कर सकती है।

इसी मध्य स्वंय सेवी बल से जुड़े एक अन्य संगठन ” सराया अलखुरासानी” के महासचिव हामिद अलजज़ायरी ने कहा कि प्रतिरोध करने वाले संगठन केवल इराक में ही नहीं है बल्कि सीरिया और लेबनान में भी उपस्थित हैं इस लिए यह ज़रूरी नहीं है कि हम इस्राईल को केवल इराक़ से ही जवाब दें लेकिन हम यह एलान करते हैं कि जल्द ही इस्राईल की ओर से बमबारी का जवाब दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि हमारा जवाब उचित होगा और समय आने पर उसका एलान भी किया जाएगा।

याद रहे हालिया महीनों में इस्राईल ने अमरीका के सैनिकों की मदद से कई बार इराक़ में स्वंय सेवी बल के ठिकानों पर हमले किये।

इराक़ में राडार सिस्टम अमरीका की निगरानी में है और जब इस्राईल हमले करना चाहता है तो अमरीकी सैनिक राडार सिस्टम बंद कर देते हैं जिससे इस्राईल ड्रोन पकड़ में आए बिना हमला कर देते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments