29 C
Mumbai
Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-विदेशइराक़, बड़ी साज़िश नाकाम, क्या आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी की हत्या की कोशिश...

इराक़, बड़ी साज़िश नाकाम, क्या आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी की हत्या की कोशिश की गयी?… इराक़ में प्रदर्शनों के पीछे छिपी शक्तियों के चेहरे से हटा नक़ाब…

रिपोर्ट – सज्जाद अली नायाणी

लेबनान के अलमयादीन टीवी चैनल ने इराक़ के नजफ नगर में वरिष्ठ शिया धर्मगुरु के खिलाफ एक बड़ी साज़िश के बारे में बताया है।

विदेश – अलमयादीन टीवी चैनल ने बताया है कि नजफ में आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी के खिलाफ एक बड़ी साज़िश का इरादा रखने वाले कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

नजफ के गर्वनर ” लूय अलयासिरी” ने बताया है कि नजफ में साज़िश रचने वाले एक गिरोह को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अलयासेरी ने बताया कि इस गुट के सदस्य, नजफ के प्राचीन भाग में घुसने में सफल हो गये थे  जहां वह आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी के खिलाफ अपनी साज़िश को व्यवहारिक बनाना चाह रहे थे मगर समय पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्होंने बताया कि नजफ में होने वाले प्रदर्शन पहले दिन शांतिपूर्ण थे और सुरक्षा बल, प्रदर्शनकारियों के साथ सहयोग कर रहे थे किंतु दूसरे दिन अचानक ही कुछ प्रदर्शन कारी हिंसक हो गये और उन्होंने नजफ के पुराने इलाके का रुख किया।

अलयासेरी ने बताया कि प्रदर्शन कारियों में कुछ लोगों ने आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी के कार्यालय में घुसने और उसे नुक़सान पहुंचाने की कोशिश की।

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमने आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी की हत्या या उन्हें घायल करने की कोशिश की बात नहीं की है बल्कि उनका अपमान करने की कोशिश ज़रूर की गयी।

नजफ के गर्वनर ने कहा कि सब को यह जान लेना चाहिए कि वरिष्ठ धार्मिक नेतृत्व, हमारी रेड लाइन है, हम शांतिपूर्ण प्रदर्शनों का समर्थन करते हैं लेकिन कुछ लोग प्रदर्शनों के पीछे कुछ और इरादा रखते हैं। उन्होंने बताया कि नजफ नगर के पुराने इलाके में शांति पूरी तरह से स्थापित हो गयी है।

अलआलम न्यूज़ चैनल के पत्रकार ने नजफ के गर्वनर के हवाले से बताया है कि कुछ लोगों ने आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी की हत्या की कोशिश की थी। जिसके बाद दो गुटों के सदस्यों को गिरफ्तार किया गया। यह लोग नजफ और कूफा में दो बैंक लूटने की कोशिश कर रहे थे।

याद रहे इराक़ के बड़े भाग पर आतंकवादी संगठन दाइश के क़ब्ज़े के बाद आयतुल्लाहिल उज़मा सीस्तानी ने उस आतंकवादी संगठन के खिलाफ युद्ध करने का फतवा दिया था जिसके बाद इराकी युवाओं ने देश की सेना के साथ मिल कर दाइश को खदेड़ दिया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments