26 C
Mumbai
Tuesday, October 26, 2021
Homeसंपादकीयसंपादक की कलम से : मान्यनीय मोदी जी कठुआ गैंगरेप के बाद...

संपादक की कलम से : मान्यनीय मोदी जी कठुआ गैंगरेप के बाद जघन्य हत्या की शिकार 8 वर्ष की बच्ची का परिवार भी आपकी बाट जोह रहा है। —– रवि जी. निगम

पी एम साहब उन्नाव केस की पीडिता और कठुवा केस में आठ वर्ष की बच्ची का अमानवीय तरह से गैंग रेप के बाद निर्मम हत्या का शिकार हुई बच्ची का परिवार  व उसकी माँ आपकी खामोशी का कारण जानना चाहती है, उसकी माँ आज भी आपके “बेटी पढ़ाओं – बेटी बचाओ ” नारे को याद कर – कर रो पढ़ती है । वो जानना चाहती है कि अब वो आपके नारे को कैसे अमल में ला पायेगी ?

मोदी जी मैं भी प्यारी सी आसफ़ा इस नरक से दूर आसमां से आपकी ओर मर्म आँखो से टकटकी लगाये निहार रही हूँ कि अब और कोई आसफ़ा मेरी तरह धर्म के पुजारियों की दरिन्दगी का शिकार न बनने पाये । ऐसा कुछ करिये तकि ऐसी घृणित दरिन्दगी करने वालों का जो साथ दे रहे हैं और घर्म से जोड़कर भेद भाव पैदा करने में अमादा है ऐसे लोगों के लिये भी कुछ करिये, आप तो वैश्विक स्तर पर त्वरित एक्शन लेने वाले नेताओं में सुमार रखते हो और दहाड़ मारके बोलने वालों में आप जानें जाते हैं। अरे कुछ तो बोलिये मुँह तो खोलिये, मैं इस जहाँ से दूर बैठ पूँछती हूँ कि यदि मैं आपकी बेटी होती तो भी क्या आप चुप रहते ? मुझे भी आपका सेल्फी प्रेम बहुत लुभाता था, मैं भी आपके साथ सेल्फी जरूर लेती काश मैं भी जिन्दा होती !

मोदी जी आपके बड़बोले नेता भी क्यों चुप है ? अब वो चैनलों पर उँगली उठा कर और चीख – चीख कर हमारे विषय पर क्यों बहस करने से कतरा रहे हैं ? क्यों कर सवालों से बच कर निकल जाते हैं ?

मोदी जी इन्साफ कहाँ है ?

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments